Warning: Use of undefined constant REQUEST_URI - assumed 'REQUEST_URI' (this will throw an Error in a future version of PHP) in /srv/users/serverpilot/apps/bsebresults/public/wp-content/themes/publisher/functions.php on line 74
बिहार के राज्यपाल कौन हैं? जवाब में फागू चौहान का विकल्प ही नहीं - BSEB Bihar 10th , 12th Results 2020

बिहार के राज्यपाल कौन हैं? जवाब में फागू चौहान का विकल्प ही नहीं

Who is the Governor of Bihar? There is no substitute for Fagu Chauhan in response

 

सिमुलतला आवासीय विद्यालय के लिए हुई प्रारंभिक परीक्षा प्रश्न पत्र में त्रुटी को लेकर चर्चा में है। सेट सी के प्रश्न संख्या 89 में सवाल पूछा गया- बिहार के राज्यपाल कौन हैं? लेकिन, इसके ऑप्शन में वर्तमान राज्यपाल फागू चौहान का नाम ही नहीं है। इसके अतिरिक्त आधा दर्जन से अधिक प्रश्नों व ऑप्शन में शाब्दिक अशुद्धियां हैं।

इस बाबत बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के परीक्षा नियंत्रक (विविध) अरुण कुमार ने बताया कि प्रश्न पत्र सेट करने में बोर्ड की कोई भूमिका नहीं होती है। अगर कोई त्रुटि है तो एंसर की जारी कर आपत्ति मांगी जाएगी। आपत्ति के आधार पर विशेषज्ञों से राय ली जाएगी। इसके बाद जो भी गलत प्रश्न होंगे, उसे डिलीट कर दिया जाएगा। बचे प्रश्नपत्र के आधार पर रिजल्ट जारी होगा।

41 केंद्रों पर हुई परीक्षा: बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से सिमुलतला आवासीय विद्यालय, जमुई के वर्ग छह में नामांकन के लिए प्रारंभिक परीक्षा गुरुवार को हुई। इसके लिए राजधानी में सर गणोश दत्त पाटलिपुत्र उच्च माध्यमिक विद्यालय, कदमकुआं और बीएन कॉलेजिएट उच्च माध्यमिक विद्यालय में केंद्र बनाया गया था जबकि राज्य में कुल 41 केंद्र बनाए गए थे। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि प्रारंभिक प्रवेश परीक्षा का आयोजन दोपहर एक बजे से 03:30 बजे के बीच हुआ। पटना में 977 परीक्षार्थी को शामिल होना था। परीक्षा में 150 वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे गए थे। इसके ओएमआर सीट पर बोर्ड की ओर से पहले से ही विद्यार्थियों के नाम, अनुक्रमांक, फोटो, परीक्षा की तिथि इत्यादि प्री-प्रिंटेड थे।

प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम के बाद होगी मुख्य परीक्षा

  • छठी कक्षा के 60 सीटों पर छात्र-छात्रओं का नामांकन प्रारंभिक परीक्षा के बाद मुख्य परीक्षा में सफल होने पर होगा।
  • इस परीक्षा के लिए 14,155 परीक्षार्थियों ने आवेदन किया था। प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्न पांचवी कक्षा के लिए निर्धारित पाठयक्रम पर आधारित थे। इसमें निगेटिव अंक का प्रावधान नहीं था।
  • पहले तैयार हुआ था प्रश्न पत्र
  • इस बाबत पूछे जाने पर एससीईआरटी के अधिकारी विनोदानंद झा ने बताया कि प्रश्न पत्र जिस समय तैयार कराया गया था, उस समय फागू चौहान राज्यपाल नहीं थे। इस प्रश्न या अशुद्धि वाले प्रश्नों को लेकर छात्रों के साथ अहित नहीं होगा। मामले की समीक्षा होगी। गलत प्रश्न पत्र को छांट कर रिजल्ट जारी किया जाएगा।
  • सिमुलतला आवासीय विद्यालय का दो सेटों में गलत प्रश्न पत्र ’ जागरण

News  Source Dankin Jagran

Leave A Reply

Your email address will not be published.